Connect with us

Health

इस घरेलु उपाय से अपनी पाचन शक्ति बढ़ाएं, गैस और कब्ज से छुटकारा पाएं, अपनाएं ये 5 अचूक उपाय

आजकल की भागदौड़ वाली लाइफस्टाइल और खराब दिनचर्या की वजह से लोगो का खानपान भी काफी असंतुलित हो गया है जिसकी वजह से स्वास्थ्य संबंधित बहुत सी परेशानियां उत्पन्न हो रही है. ज्यादातर सभी लोग आजकल घर का खाना छोडकर अपने अपने व्यस्त जीवन शैली की वजह से भर का खाना ही जयदा खाने लगे है और इस तरह अपनी सेहत की तरफ बिल्कुल भी ध्यान नहीं दे पाते हैं.

घर से बाहर का लगातार खाना खाने की वजह से बहुत सी शारीरिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है इन सभी में से सबसे जयदा लोग अपनी पेट से जुड़ी हुई परेशानियां की वजह से परेशान होते है.

ख़राब दिनचर्या की वजह से खाना सही से ना पचना पेट का हमेशा खराब रहना एसिडिटी कब्ज इस तरह की परेशानियां लोगों को झेलनी पड़ती है. जिसकी वजह से लोग पुरे दिन परेशनी महसूस करते रहते है.

किसी भी व्यक्ति को स्वस्थ रहने के लिए सबसे पहले उसका पाचन क्रिया का स्वस्थ होना जरूरी होता है. अगर किसी व्यक्ति का पाचन तंत्र ठीक ना हो तो उसको बहुत सी शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है और उसका स्वास्थ्य भी ठीक नहीं रहता है. आपके इसी परेशानी की वजह से आज हम पाचन तंत्र को मजबूत बनाने के लिए ऐसे कुछ आसान घरेलू उपाय बताने वाले हैं जिसको अपनाकर आप अपने ख़राब पाचन क्रिया को मजबूत बनाकर स्वस्थ रह सकते है. तो फिर आइये जानते है…

घरेलु सौंफ का सेवन आपकी पेट सम्बंधित अधिकतर बीमारियों का अचूक इलाज है. सौंफ में एंटीबैक्टीरियल और एंटी फ्लामेटेरी गुण काफी मात्रा में मौजूद होते हैं जब आप खाना खाते हैं तो उसके पश्चात एक चम्मच सौंफ का सेवन कीजिए यह आपके मुंह में फंसे कीटाणुओं का सफाया करता है जिसकी वजह से आपके मुंह में कोई बीमारी नहीं होती है और आपके मुंह से बदबू भी नहीं आती है.

सौंफ के सेवन करने से आपके मुंह में लार अधिक मात्रा में बनती है जिसकी वजह से खाना ठीक प्रकार से पच जाता है और आपका पाचन तंत्र भी मजबूत रहता है. इसलिए आप रोज़ाना खाना खाने के सौफ कर सेवन कर सकते है.

दही एक आयुर्वेदिक नुस्के की तरह ही हमारे पेट से सम्बंधित बहुत सारी बीमारियों का रामबाण इलाज है. अगर आप दही और जीरे का सेवन करते हैं तो इससे आपके पेट को काफी लाभ मिलता है दही में एंटीबैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं और जीरे में एंटी फ्लामेटेरी गुण पाए जाते हैं जब आप दही में आधा चम्मच जीरा पाउडर मिलाकर इसका सेवन रोजाना सुबह के समय खाली पेट करेंगे तो इससे पेट के बैक्टीरिया नष्ट होते हैं इससे पेट का पाचन बिलकुल ही सही तरिके से होने लगता है.

हमारे शरीर के पाचन तंत्र के लिए त्रिफला चूर्ण का सेवन अमृत के समान होता है क्योंकि इसमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल एंटीआक्सीडेंट एंटी इंफ्लेमेटरी और फाइबर पाचन तंत्र को मजबूत बनाने में काफी मदद करता है इससे आपका पेट भी साफ रहता है आप रात में सोने से पहले एक गिलास दूध के साथ एक चम्मच त्रिफला चूर्ण का सेवन कीजिए इससे आपके पेट से जुड़ी हुई सभी परेशानियां दूर होती है और शरीर काफी स्वस्थ रहता है.

दूध में हल्दी डालकर उसका सेवन करने से पेट का पाचन सही होने के साथ ही साथ शरीर मजबूत बनता है क्योंकि हल्दी में एंटीबैक्टीरियल एंटीआक्सीडेंट और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं जो आपके शरीर की प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि करता है इससे आपको सर्दी जुखाम और बुखार जैसी समस्या का सामना नहीं करना पड़ता यह आपके पाचन तंत्र को भी मजबूत करता है. रोज़ाना रात में खाना खाने के बाद एक गिलास दूध में थोड़ी मात्रा में हल्दी का सेवन कीजिए, इससे आपको काफी फायदा मिलेगा.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Health

बेहद अजीबो गरीब कंडीशन से जूझ रही है ये महिला, शादी के 5 साल बाद भी है व-र्जिन, अब तक नहीं बना सकी रिलेशन

आज की पोस्ट में हम आपको एक ऐसी महिला की कहानी बताने जा रहे है, जिसे जानने के बाद आप भी एक पल के लिए सोच में पर जायेंगे. दरअसल ये महिला वैजि-निज्म्स नाम की मेडिकल कंडीशन से जूझ रही थी, इस बीमारी के कारण महिला का अपने पति से रिलेशन बना पाना भी मुमकिन नहीं था. बावजूद इसके और तमाम मेडकल कंडीशन के रोक टोक के बाद भी महिला ने पिछले ही महीने एक बेटी को जन्म दिया है. इस चीज़ के लिए तो डॉक्टर्स का इलाज भी काम नहीं आया.

हैरानी की बात ये है की शादी के बावजूद महिला वर्जिन है, पर उसकी मां बनने की ख्वाहिश पूरी हो गई है. डॉक्टर्स ने एक छोटी सी सर्जरी की और आईवीएफ का सहारा लिया, जिसके बाद उसने पिछले महीने अपनी बेटी को जन्म दिया है. अब आखिरकार उस महिला ने सामने आ कर पूरी दुनिया के सामने अपनी आपबीती शेयर की है. “द सन” की रिपोर्ट के मुताबिक, अहमदनगर की रहने वाली 30 साल की रेवती को 22 साल की उम्र में ही इस बात का अहसास हो गया था कि सेक्शुअल एक्टिविटीज को लेकर उसके साथ कुछ परेशानी है.

 

उस समय वो इस बारे में बात करने में काफी संकोच महसूस करती थी और उस वक्त उसमें मेडिकल हेल्प लेने की भी हिम्मत नहीं थी.  उसने इस मसले को आने वाले भविष्य पर छोड़ दिया. इसी बीच 2013 में उसकी अपने फ्यूचर हसबैंड चिन्मय से ऑनलाइन मुलाकात हुई, जो उस समय अमेरिका में थे. बात रिलेशन तक पहुंची और चिन्मय अमेरिका से रेवती के लिए भारत आए और उसे शादी कर साथ ले गए। शादी की पहली रात को ही रेवती ने चिन्मय को अपनी स्थिति के बारे में बता दिया था.

रेवती ने जब अपनी कंडीशन के बारे में दोस्तों से जिक्र किया तो उन्होंने सेक्स से पहले वाइन पीने या फिर वेजाइना के एरिया को क्रीम से सॉफ्ट करने की सलाह दी. हालांकि, दोस्तों की दी कोई भी टिप्स काम नहीं आई. रेवती ने डॉक्टर की मदद का लेने का फैसला किया. डॉक्टर ने उसे जनरल एनस्थीसिया पर रखकर चेक किया, तब आखिरकार वैजिनिज्म्स की कंडीशन का पता चली.

वैजिनिज्म्स नाम की मेडिकल कंडीशन में योनि के पास की मसल्स में सिकुड़न आ जाती है. इसके चलते रिलेशन के दौरान भी योनि में संकुचन हो जाता और संबंध बना पाना नामुमकिन हो जाता है. इसके बाद डॉक्टर ने सर्जरी कर उसके वेजाइना के पास कई कट दिए और उस जगह को खींचकर फैलाने की कोशिश की, ताकि रेवती उस कंडीशन से बाहर निकल सके. इसके बाद कपल के लिए रिलेशन बनाना तो संभव नहीं हो सका और शादी के 5 साल बाद अब भी वो वर्जिन हैं. हालांकि, इसके बाद कपल के पेरेंट्स बनने का सपना पूरा हो गया.

डॉक्टर्स ने आईवीएफ का सहारा लिया और पिछले साल मई में रेवती इसके जरिए प्रेग्नेंट होने में कामयाब हुई। हालांकि, उसे लगा था कि इस कंडीशन के चलते वो ऑपरेशन से ही बच्चे को जन्म दे सकेगी. पर ऐसी मेडिकल कंडीशन के बावजूद रेवती ने 48 घंटे के लेबर के बाद बीते 9 फरवरी को अपनी बेटी को नेचुरल तरीके से जन्म दिया.  मां बनने के बाद रेवती का कहना है कि 6 पाउंड के बच्चे को जन्म देने के बाद अब वो इस बात को लेकर कॉन्फिडेंट हैं कि ये कंडीशन अब उनके रिलेशन में बाधा नहीं बनेगी.

Continue Reading

Health

मर्द सिर्फ अपनी इन 3 गन्दी आदतों को सुधार ले, शरीर बन जाएगा फौलाद

जैसा के हम सभी जानते है की आज कल की इस भाग दौर भरी लाइफ में इंसान की दिनचर्या और खानपान ऐसा हो गया है की उन्हें तरह तरह की अनेको बीमारियों का सामना करना पड़ा है. इन बीमारियों की वजह से दिन प्रतिदिन इंसान का शरीर काफी कमजोर होता है. पुराने समय में लोग सिर्फ अपनी दिन चर्या और खानपान सही रखकर 100 सालो से भी जयदा जीवन जीते थे जबकि आज के समय में इंसानो की औसतन जीवन आयु 60 साल ही रह गयी है.

इसका सबसे मुख्य वजह है इंसानो ने अपने जीवन में पैसा कमाने को इतना महत्त्व दे दिया है जिस वजह से न तो उन्हें अपने सोने के समय का पता होता है और न खाना खाने के समय का कुछ ख्याल. इतने व्यस्त लाइफ स्टाइल की वजह से इंसान अपने शरीर का भी ढंग से केयर नहीं कर पाता हैं.

ऐसे में शरीर काफी पतला दुबला हो जाता हैं और ये अब आम बात हो गयी है ।आज के समय में हर एक इंसान चाहता हैं की उसकी बॉडी काफी फिट रहे है लेकिन उसके लिए मेहनत या फिर एक्सरसाइस नहीं कर पाता हैं.

ऐसे में इंसान बहुत सारे गंदे शोक पाल लेता हैं जिसकी वजह से उसका शरीर काफी खराब होने लग जाता हैं और उन हरकतों की वजह से शरीर को फिट रख पाना नामुमकिन सा हो जाता हैं लेकिन अगर इंसान इन खराब हरकतों को छोड़ दे तो उसका शरीर भी फौलादी हो जाएगा वो भी बिना जिम जाये.

आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आप को कुछ ऐसी गन्दी आदतों के बारे में बताने वाले हैं जिन्हे अगर इंसान छोड़दे तो उनका शरीर भी फौलादी बन जाएगा.

रात को काफी देर तक जागना

बहुत से ऐसे लोग होते हैं जिन्हे रात में लेट सोने के आदि हुआ करते हैं वो लोग ये नहीं जानते हैं की हमारे शरीर को रात के समय में नींद की और रिलेक्स की काफी अवश्यकता हुआ करती हैं।ऐसे में अगर रात के समय में नीदं पूरी नहीं होती है तो पूरा दिन काफी आलस्य से निकला करता हैं और काफी दिन तक अगर ऐसा ही चलता रहे तो हमारा शरीर बहुत ज्यादा सुस्त हो जाता हैं. जिस वजह से शरीर में मौजूद बीमारियों से लड़ने वाले हार्मोन्स कमजोर होने लगते है.

सही समय पर भोजन का सेवन न करना

आज के समय में हम में से अधिकतर लोग सही समय पर भोजन नहीं करते हैं. हमे सुबह में नाश्ता और दोपहर और रात का खाना सही समय पर करना चाहिए और किसी भी समय का खाना मिस नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से शरीर की कार्यप्रणाली में बाधा उत्पन्न होती है और शरीर खाना पचाने में असमर्थ बनता जाता है.

जरूरत से ज्यादा चिंता करना

आप अगर ये सोचते हैं की ज्यादा चिंता करने से आप के शरीर पर कुछ बुरा असर नहीं पड़ेगा तो आप ये बिलकुल गलत सोच रहे हैं. ज्यादा सोचने या फिर टेंसन लेने से इंसान का दिमाग काफी व्यस्त रहने लग जाता हैं उन्ही बातो में खोने लग जाता हैं और उसके अलावा उसे कुछ अच्छा नहीं लगता यहाँ तक के खाना भी नहीं खाया जाता.

ऐसे में अगर शरीर में पुरे दिन खाना नहीं पहुंचेगा तो वजन नहीं बढ़ेगा जिस वजह से बॉडी का ग्रोथ बिलकुल ही समान्य होता जायेगा फिर हमारा शरीर तमाम तरह की बीमारियों से ग्रसित होता जायेगा और दिन प्रति दिन हमारा शरीर जरूरत से जयदा कमजोर हो जायेगा

Continue Reading

Health

इन 5 पुलिसवालों की बॉडी देखकर, बॉलीवुड का हर स्टार शरमा जाये, यकीन न हो तो देखें तस्वीरें

आज की दुनिया काफी भागदौड़ भरी है. आजकल लोगो को अपने काम से जरा भी फुर्सत नहीं मिलती है. लोग अपने काम को लेकर इतना व्यस्त है की उनका शरीर मानो इतना थक जाता है की उन्हें बाकी के काम करने का जरा भी शक्ति नहीं बचता है. इसी वजह से तो वो अपनी सेहत का भी ध्यान नहीं रख पाते है. इसी कारणवर्ष आज हमारे देश में लोग बिमारियों का शिकार है. यहाँ हम सिर्फ आम लोगो की बात नहीं कर रहे है. अगर आप हमारे देश के पुलिस की भी बात करे तो वहां भी लगभग सभी अनफिट है.

लेकिन, आज हम आपको जिन पुलिस ऑफिसरो के बारे में बताने जा रहे है, वो फिट नहीं बल्कि फिट से भी कई ज्यादा है. जी हाँ ऐसा हम इसीलिए कह रहे है, क्यूंकि अगर आप उनकी बॉडी देखेगें तो आप शॉक हो जायेंगे. उनकी इसी जबरदस्त पर्सनालिटी को देखकर अपराधी भी डर जाते है. तो आइये फिर बताते है आपको उनके बारे में..

किशोर दांगे – किशोर महाराष्ट्र के जालना में एक बेहद गरीब परिवार में पैदा हुए थे. लेकिन, आज किशोर दांगे करोड़ों युवाओं के लिए एक मिसाल बन चुके हैं. किशोर ने न सिर्फ पुलिस की नौकरी की बल्कि अपनी फिटनेस और बॉडी को बनाने पर भी अपना पूरा जोर लगा दिया. किशोर को मिस्टर महाराष्ट्र, मिस्टर मराठवाड़ा और कई विदेशी प्रतियोगितायें की परुष्कार भी जीते है. तस्वीर में आप देख सकते है की इनकी बॉडी वाकई में बेहद खतरनाक है.

नवीन कुमार – हरियाणा पुलिस में SSI के पद पर तैनात नवीन कुमार की बॉडी भी किसी बॉडी बिल्डर से कम नही है. नवीन कुमार ने अपनी ऐसी बॉडी बनाने के लिए काफी मेहनत की है. साल 2013 में नवीन कुमार मिस्टर हरियाणा बने थे. नवीन अपनी नौकरी के साथ-साथ घंटो जिम मेंकिया करते है.

सचिन अतुलकर – सचिन जी को तो आप जानते ही होंगे. ये एक फेमस पुलिस IPS ऑफिसर है. फिटनेस के मामले में सचिन सिर्फ आमजनों के ही नहीं, बल्कि पुलिस विभाग में भी कई अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए आइकॉन हैं. सचिन की उम्र लगभग 22 साल है, IPS अधिकारी बनने वाले सचिन 2007 बैच से हैं.

मोतीलाल दायमा – इनकी तो बात ही अलग है. इनके आगे तो बॉलीवुड का भी कोई हीरो नही टिक सकता है. ये बड़े से बड़े बॉडी बिल्डर को टक्कर दे सकते है. इनका नाम मोती लाल दायमा है जो इंदौर पुलिस में कॉन्सटेबल के पद पर तैनात है. इनकी उम्र लगभग 27 साल है. मोतीलाल दायमा 2012 से पुलिस विभाग में नौकरी कर रहे हैं. अपनी बॉडी को मेंटेन रखने के लिए मोतीलाल हर महीने करीबन एक लाख रुपए अपनी डायट पर खर्च करते हैं.

तेजेंद्र सिंह – तेजेंद्र पुलिस में आने के बाद नहीं बल्कि बहुत कम उम्र से ही बॉडी बिल्डिंग के दिवाने थे. इन्होने पहले से ही बॉडी बना रखी थी. इनके गाँव वाले इनको बीस्ट कहकर बुलाते थे. साल 2006 में तेजेंद्र ने पुलिस की नौकरी शुरू की, और एंगोमे बडीबीडिंग में गोल्ड मैडल भी जीता है.

Continue Reading
Entertainment2 months ago

पहले पति ने दिया तलाक, दूसरे ने भी घर से निकाला, अब दो दो बच्चे को अकेले ही पाल रही ये एक्ट्रेस

Entertainment2 months ago

माँ के बाद अब बेटी की किस्मत भी चमकाएंगे सलमान खान, पहली फिल्म से हिट हुई थी दोनों की जोड़ी

Entertainment3 months ago

मजदूर दिवस- भारत ही नहीं दुनिया के 80 देशों में आज है छुट्टी, मजदूरों ने अमेरिका को भी हिला कर रख दिया था

Entertainment3 months ago

अनुष्का शर्मा की राह पर चल पड़ी काजल अग्रवाल भी, इस क्रिकेटर पर आया ‘सिंघम’ हसीना का दिल

Entertainment3 months ago

मज़ेदार चुटकुले – टीचर – लड़किया कब बड़ी होती हैं लड़के – जब वो ब्रा पेहेन ने लगती हैं टीचर – लड़के कब बड़े होते हैं लड़किया :- जब वो

Entertainment3 months ago

इन 3 बॉलीवुड सितारों ने जो काम किया है, वो आज के युवाओं को एक नई सीख दे गया

Entertainment3 months ago

ये है बॉलीवुड कलाकारों के सबसे विवादित और चौंका देने वाला बयान जिसे सुनने के बाद यकीन नहीं होगा

Entertainment3 months ago

मशहूर अभिनेता शशि कपूर की खूबसूरत पोती के आगे फेल हैं सारी हीरोइनें, देखकर उड़ जाएंगे आपके भी होश

Entertainment3 months ago

23 साल की इस लड़की ने अगर बॉलीवुड में रख दिए अपने कदम, लोग इसकी खूबसूरत को देखकर भूल जाएंगे बाकि सबको

Entertainment3 months ago

दिशा पाटनी की कार्बन कॉपी है उनकी बहन खुशबू, सेना में हैं अधिकारी

Trending Now